monkey Pox virus in Hindi – पूरी दुनिया में बढ़ रहे हैं मंकीपॉक्स के मामले

monkey Pox virus in Hindi – 2 सालों से पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है धीरे-धीरे कोरोना के खत्म होते प्रभाव और टीकाकरण के कारण इंसानी जीवन फिर पटरी पर वापस आ रहा है इसी बीच डब्ल्यूएचओ द्वारा एक और वायरस को लेकर विश्वभर को चेताया है जिसका नाम मंकी पॉक्स वायरस है मंकीपॉक्स के शुरुआती मामले कांगो अफ्रीका के देशों में देखे गए थे लेकिन वर्तमान में मंकीपॉक्स के 80 से ज्यादा मामले 11 से अधिक देशों में फैल चुके हैं आज आर्टिकल में हम मंकीपॉक्स के बारे में करीब से जानेंगे

क्या है मंकीपॉक्स ( what is monkey pox)

मंकीपॉक्स एक तरह का दुर्बल वायरल संक्रमण है यह दुर्लभ बीमारी है यह चेचक और स्मॉल पॉक्स के समान ही होती है जैसे हमारी देसी भाषा में छोटी माता आ जाना कहते हैं इससे संक्रमित रोगी को बुखार, गठिया का दर्द और बदन में छोटे छोटे दाने जिसके अंदर पानी भरा रहता है की शिकायत होती है इस वायरस का समय काल 10 से 15 दिन का होता है जिसके बाद या अपने आप ठीक हो जाते हैं इसका सबसे पहला केस 1970 में एक 9 साल के कांगो बच्चे में पाया गया था यह बीमारी ज्यादातर अफ्रीका के जंगली इलाकों और जंगल से जुड़ी इंसानी आबादी में देखने को मिलता है

मंकीपॉक्स के लक्षण symptoms of monkey pox

मंकीपॉक्स काफी हद तक चेचक चिकन पॉक्स के समान होती है इसके प्रमुख लक्षण बुखार आना हाथों पैरों में दर्द और बदन में छोटे छोटे दाने निकल जाना इसके अलावा इसमें जोड़ों की दर्द और बदन दर्द की भी समस्या रहती है इसे मनुष्य की मृत्यु दर की संभावना बहुत कम रहती है काफी स्थिति बिगड़ जाने के बाद ही मृत्यु की स्थिति पैदा होती है

मंकीपॉक्स फैलने का कारण

मंकीपॉक्स का सबसे बड़ा कारण उतरने वाले जानवर जैसे बंदर, गिलहरी, चूहा चुहिया इत्यादि हैं यह बीमारी ज्यादातर बंदरों से फैलती है इसी वजह से इनका नाम मंकीपॉक्स रखा गया है इसका सबसे पहला केस 1950 में एक बंदर में पाया गया था इसी कारण इसका नाम मंकीपॉक्स रखा गया है

Read More – हाथों पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना किस बीमारी के लक्षण

Read More – यौन शक्ति बढ़ाने के जो घरेलू उपाय बदल देंगे आपकी जिंदगी

मंकीपॉक्स कैसे फैलता है

यह संक्रमित व्यक्ति के सीधे-सीधे संपर्क में आने पर, संक्रमित जानवरों के मल मूत्र पसीने और चोट के सीधे संपर्क में आने पर भी यह तेजी से फैलता हैयह संक्रमित व्यक्ति के सीधे-सीधे संपर्क में आने पर, संक्रमित जानवरों के मल मूत्र पसीने और चोट के सीधे संपर्क में आने पर भी यह तेजी से फैलता है

मंकीपॉक्स का इलाज

मंकीपॉक्स के इलाज में चेचक के टीके अहम भूमिका निभाते हैं यह मंकीपॉक्स के प्रभाव को 80% तक कम कर देते हैं सरकार द्वारा 2015 में मंकीपॉक्स को रोकने के लिए चेचक के टीके की अनुमति प्रदान की गई थी

मंकीपॉक्स में क्यों डरने की जरूरत नहीं है

यह दुर्लभ बीमारी है इससे ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है यह चेचक और स्माल पॉक्स जैसी बीमारी है यह ज्यादातर सही उपचार और देखरेख में 2 से 3 हफ्ते में आसानी से ठीक हो जाती है और इसमें मृत्यु दर भी बेहद कम रहती है यह हमारे गांव देहातों में फैलने वाली स्मॉल पॉक्स या छोटी माता के जैसी होती हैं

QNa

मंकीपॉक्स कैसे फैलता है

यह संक्रमित व्यक्ति के सीधे-सीधे संपर्क में आने पर, संक्रमित जानवरों के मल मूत्र पसीने और चोट के सीधे संपर्क में आने पर भी यह तेजी से फैलता है

मंकीपॉक्स के लक्षण

मंकीपॉक्स काफी हद तक चेचक चिकन पॉक्स के समान होती है इसके प्रमुख लक्षण बुखार आना हाथों पैरों में दर्द और बदन में छोटे छोटे दाने निकल जाना इसके अलावा इसमें जोड़ों की दर्द और बदन दर्द की भी समस्या रहती है

मंकीपॉक्स का इलाज

मंकीपॉक्स के इलाज में चेचक के टीके अहम भूमिका निभाते हैं यह मंकीपॉक्स के प्रभाव को 80% तक कम कर देते हैं सरकार द्वारा 2015 में मंकीपॉक्स को रोकने के लिए

Read More

हार्ट अटैक के लक्षण | हार्ट अटैक का प्रमुख कारण | हार्ट अटैक के बचाव 2022

Related Posts

3 thoughts on “monkey Pox virus in Hindi – पूरी दुनिया में बढ़ रहे हैं मंकीपॉक्स के मामले

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: